Thursday, September 20, 2018

प्यार क्या है? संदीप माहेश्वरी | Pyar Kya Hai? Sandeep Maheshwari - Famous Hindi

Pyar Kya Hai? What Is Real Love? प्यार क्या है? संदीप माहेश्वरी


हम कंफ्यूज हो जाते है प्यार और रिलेशनशिप में। हम सोचते है जिस के साथ हम रिलेशनशिप में है उससे हमें प्यार है। लेकिन ऐसा नही है।अगर आपकी आंखों में मैं खुद को देख लेता हूं और खुद में आपको देख लेता हूं वो प्यार है। क्योंकि वहाँ पर कोई सेपरेशन नही रह जाता है, जहाँ पर भी दो होते है मैं हु ये तू है वो वहाँ पर प्यार होना इम्पॉसिबल है। वहाँ पर रिलेशनशिप हो सकता है। "जहाँ पर कोशिश है वहाँ पर प्यार नही है। जहाँ पर सेपरेशन है वहाँ पर प्यार नही है।

मुझे भूख लगी और अपनी इस भूख को पूरा करने के लिये मैं दूसरे को यूज़ कर रहा हु प्यार है क्या? नही है। बिल्ली को चूहे से प्यार है? क्योंकि बिल्ली पूरा दिन चूहे के बारे में सोचती रहती है लेकिन ऐसा नही है ना। "बिना कुछ भी चाहे किसी भी तरह का किसी दूसरे के साथ रह सकते हो तो आप कह सकते हो आप प्यार में हो।"

आप किसी के बारे में सोच रहे हो और बीच मे कुछ आ जाता है आप उसे भूल जाते है वो प्यार नही हैं।
"प्यार का मतलब फड़फड़ाना नही है प्यार का मतलब है ठहर जाना।"
"प्यार एक या दो दिन में नही होता है, पूरी ज़िंदगी मे प्यार होता है।"

ये पोस्ट संदीप माहेश्वरी जी की एक वीडियो से प्रेरित है। आप उनकी पूरी वीडियो नीचे देख सकते हैं।

0 Comments

Post a Comment